₹ 100

एक कदम आगे दो कदम पीछे

एक कदम आगे दो कदम पीछे
Author: व्ला. इ.लेनिन
ISBN:
Edition: अक्टूबर 2010
Multiple Book Set: No

हर लम्बे , भीषण तथा उग्र संघर्ष के दौरान कुछ समय बाद आम तौर पर वह केंद्रीय और बुनियादी प्रश्न आने लगते हैं जिनको लेकर वह संघर्ष होता है , जिनके समाधान पर उस संघर्ष का अंतिम प्रभाव निर्भर करता है , और जिनके मुकाबले में संघर्ष की तमाम छोटी ----------- मोटी घटनायें अधिकाधिक पृष्ठ्भूमि में पहुँचती जाती हैं .

Available Options:

:


Reviews